गुरुवार, 29 अक्तूबर 2009

गुलाब के खिलने तक





नाना मौस्कुरी का ज़िक्र यहाँ पहले भी हो चुका है और हमनें वादा भी किया था कि अगली बार उनका गाया "White Roses from Athens" aka "Weisse Rosen von Athens" सुनाया जाएगा। यह एक अद्भुत गीत है और बार बार सुनने का मन करता है।

जर्मनी में १९६१ में ग्रीस के बारे में एक डोक्युमेंटरी बनी थी, जिसके लिए नाना ने यह गीत, जो दरअसल एक लोकधुन पर आधारित है, गाया था। जर्मनी में यह गीत बेहद लोकप्रिय हुआ और आज भी वहां यह नाना के नाम का पर्याय है।


video

2 टिप्पणियां:

सुशील कुमार छौक्कर ने कहा…

महेन जी फिलहाल तो नही सुन पाऐगे। कल जरुर सुनेगे जी। आप जरुर कुछ बेहतरीन चीज लाए होंगे हमेशा की तरह।

दिनेश श्रीनेत ने कहा…

सुंदर गीत है। यह वाकई बहुत शानदार ब्लाग है। यदि कभी आप सारे ब्लाग बंद करना चाहें तो यह पहला ब्लाग होगा जिसे बचाए रखने की मैं पैरवी करूंगा।

 

प्रत्येक वाणी में महाकाव्य... © 2010

Blogger Templates by Splashy Templates